दिनांक 26.09.2021 को वन विभाग का दल छिकरा बीट भ्रमण पर था। इस दौरान जंगल में कुछ संदिग्ध अज्ञात व्यक्ति दिखाई दिये। जिनमें से वन विभाग द्वारा एक व्यक्ति को पकड लिया। उक्त व्यक्ति को छुडाने के लिये अन्य अज्ञात व्यक्तियों द्वारा बंदूक से वन विभाग के दल पर फायर किया गया। जिससे वनरक्षक संतोष कुमार शर्मा घायल हो गया। वनरक्षक संतोष कुमार शर्मा की रिपोर्ट पर थाना उदयपुरा में अप0क्र0-256/21 धारा 307, 353, 333, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर अनुसंधान में लिया गया।
प्रकरण में पुलिस अधीक्षक रायसेन श्री विकाश कुमार शाहवाल, अति0 पुलिस अधीक्षक रायसेन श्री अमृत मीणा के मार्गदर्शन में एसडीओपी बरेली द्वारा पुलिस टीम गठित की गयी। पुलिस टीम द्वारा वनरक्षक संतोष शर्मा द्वारा लिये गये बुजुर्ग व्यक्ति की फोटो के आधार पर अज्ञात आरोपियों की पतारसी प्रारंभ की गयी। फोटो की पहचान हेतु उसे आसपास के थाना क्षेत्रों में भेजा गया। पहचान करने वाले व्यक्ति को पुलिस अधीक्षक रायसेन द्वारा 2500/-रूपये इनाम दिये जाने की घोषणा की गयी। इस संबंध में सायबर सेल की भी मद्द ली गयी।
पुलिस टीम द्वारा दिनांक 19/20.10.2021 की मध्य रात्रि को आरोपी मलखान पिता प्रकाश आदिवासी निवासी बर्रा पोंडी एवं कमलेश पिता बाबूलाल आदिवासी निवासी बाणा, सिलवानी को गिरफ्तार कर लिया गया। घटना में प्रयुक्त बंदूक व कुल्हाडी जप्त की गयी। पूछताछ पर पता चला कि घटना में तीन लोग और शामिल है जो फरार हैं जिनकी तलाश जारी है। प्रकरण में उनि0 रामसिंह ठाकुर, उनि0 संतोष सिंह, आर0 481 विनोद, आर0 08 नारायण, आर0 619 अमित, आर0 757 गौरव, आर0 47 शुभम राजपूत, सैनिक 238 महेन्द्र सिंह की सरहानीय भूमिका रही।